Tagged: Popular Urdu Poetry

Gulzar Shayari in Hindi | Gulzar Poetry

Gulzar Shayari

Gulzar Shayari in Hindi सहमा सहमा डरा सा रहता है जाने क्यूँ जी भरा सा रहता है Sahma sahma dara sa rehta haiJane kyun jee...

Kaifi Azmi Hindi Film Song

Kaifi Azmi Hindi Film Song

या दिल की सुनो दुनिया वालों या मुझको अभी चुप रहने दो मैं ग़म को खुशी कैसे कह दूँ जो कहते हैं उनको कहने दो...

Majaz Lakhnawi

Majaz Lakhnawi

शहर की रात और मैं, नाशाद-ओ-नाकारा फिरूँ जगमगाती जागती, सड़कों पे आवारा फिरूँ ग़ैर की बस्ती है, कब तक दर-ब-दर मारा फिरूँ ऐ ग़म-ए-दिल क्या करूँ, ऐ वहशत-ए-दिल...

Allama Iqbal

Allama Iqbal

आता है याद मुझको गुज़रा हुआ ज़माना वो बाग़ की बहारें, वो सब का चह-चहाना आज़ादियाँ कहाँ वो, अब अपने घोसले की अपनी ख़ुशी से...

Ibne Insha Ghazal

Ibne Insha Ghazal

कल चौदहवीं की रात थी शब भर रहा चर्चा तेरा कुछ ने कहा ये चाँद है कुछ ने कहा चेहरा तेरा हम भी वहीं मौजूद...